Skip to main content

क्या है networking in hindi ? | नेटवर्किंग का मतलब हिंदी में

Networking in Hindi
networking in hindi



हेल्लो दोस्तों!!
स्वागत है आपका आज की हमारी पोस्ट में जो कि एक बहुत ही अच्छे विषय पर लिखी गई हैं। आज इस पोस्ट का हमारा टॉपिक है Networking in Hindi। दोस्तों आपने नेटवर्क का नाम तो सुना ही होगा क्योंकि  आज के जमाने में यह एक बहुत ही आम विषय हो गया है। आज हर किसी के पास स्मार्टफोन होता है जिससे कि वे इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन फिर भी नेटवर्क और नेटवर्किंग में क्या फर्क है, सभी लोग नहीं जानते। आज इस पोस्ट में हम आपको network और networking से जुड़ी हर छोटी बड़ी जानकारी के बारे में बताएंगे। क्योंकि अधिकांश यह देखा जाता है कि लोग नेटवर्क और नेटवर्किंग को एक ही समझते हैं जबकि ऐसा नहीं है। नेटवर्क का मतलब अलग है और नेटवर्किंग का मतलब अलग है। हालांकि नेटवर्क और नेटवर्किंग आपस में जुड़े हुए हैं मगर इन दोनों का अर्थ अलग अलग है। तो आइए विस्तार से जानते हैं कि नेटवर्किंग क्या है? नेटवर्किंग के क्या लाभ एवं हानि है तथा कौन-कौन सी नेटवर्किंग डिवाइस है जिससे कि हम नेटवर्क को स्थापित कर सकते हैं। आइए बिना किसी देरी के नेटवर्किंग के बारे में जानना समझना शुरू करते हैं।

यहां पढ़िए

What is networking in Hindi

जब दो या दो से ज्यादा डिवाइस किसी भी कम्युनिकेशन चैनल से जुड़ते हैं तब एक network बनता है। इसे हम computer network , या data network भी कहते है। एक network किन्हीं भी दो device के बीच में बन सकता है जैसे कि computer-computer, computer-smartphone, smartphone-laptop आदि।
दोस्तों अभी हमने जाना कि network का मतलब होता है जब दो डिवाइस एक कम्युनिकेशन चैनल के माध्यम से जुड़ती है तब नेटवर्क बनता है। तो अब नेटवर्किंग क्या होता है आइए समझते हैं।
जब दो या दो से ज्यादा कंप्यूटर या स्मार्टफोन आपस में कनेक्ट होते हैं एक कम्युनिकेशन चैनल के द्वारा तब जो structure बनता है उसे network कहते हैं और कंप्यूटर के एक दूसरे से कनेक्ट होने की इस प्रोसेस को networking कहते हैं।
एक नेटवर्क बनाने के लिए हमें कम से कम दो डिवाइस की जरूरत होती है। और हर device में तीन मुख्य चीजों की आवश्यकता होती हैं।

  • Hardware
  • Software
  • Protocol

और इस कंप्यूटर नेटवर्क को हम अपने हिसाब से wired या wireless भी बना सकते है।

Networking क्यों करते है?

दो या दो से ज्यादा नेटवर्किंग डिवाइस के बीच डाटा या रिसोर्स को सेंड या रिसीव करने के लिए नेटवर्किंग की जाती है। इसके माध्यम से एक ही समय पर बहुत सारी डिवाइसेज में कॉमन डाटा, फाइल, या information भेजी जा सकती है। यह इनफार्मेशन कुछ भी हो सकती है मैसेज, text, document, photo, songs, video, आदि। Data transmission के लिए यह एक बहुत ही अच्छा प्लेटफॉर्म है। नेटवर्किंग के बहुत से फायदे हैं लेकिन दोस्तों ध्यान में रखने वाली बात यह है कि networking से नुकसान भी होते है। आइये विस्तार से जानते हैं नेटवर्किंग के लाभ एवं हानि के बारे में।

Networking के लाभ

दोस्तों किसी भी चीज को शुरू करने से पहले यह देखा जाता है कि क्या वास्तव में हमें से लाभ होगा या नहीं। यही वजह है कि आज दुनिया भर में नेटवर्किंग की जाती है क्योंकि नेटवर्किंग से कई तरह के फायदे होते हैं। आइए जानते हैं वे फायदे क्या क्या है।

बेहतर communication

नेटवर्किंग का सबसे पहला फायदा यही है कि इसमें हम एक साथ बहुत सारे डिवाइस में डाटा शेयर कर सकते हैं। नेटवर्किंग से पहले ऐसा नहीं था। पहले हम पोस्ट ऑफिस के द्वारा मैसेज भेजते थे और इस पूरी प्रोसेस में काफी समय लगता था जिससे कि हमें मैसेज के लिए इंतजार करना पड़ता था। लेकिन अब ऐसा नहीं है, नेटवर्किंग की सहायता से आज हम कुछ ही सेकंड में दुनिया के किसी भी कोने में बैठे व्यक्ति तक अपना मैसेज पहुंचा सकते हैं तथा उससे मैसेज रिसीव भी कर सकते हैं।

Easy file transmission

नेटवर्किंग की मदद से हम सभी devices के बीच एक फाइल को आसानी से शेयर कर सकते हैं। हमें एक ही फाइल को हर एक डिवाइस में कॉपी पेस्ट करने की जरूरत नहीं होती। हम एक ही समय पर फाइल को नेटवर्क में जुड़े सभी कंप्यूटर में भेज सकते हैं।

Increases storage area

नेटवर्किंग के आने के बाद हम अपने कंप्यूटर में स्टोरेज कैपेसिटी को बढ़ा सकते हैं। हम एक कंप्यूटर की फाइल को उस कंप्यूटर नेटवर्क से जुड़े सभी कंप्यूटर में यूज कर सकते हैं। इससे केवल हमें एक ही कंप्यूटर में फाइल स्टोर करने की जरूरत है।

Easy handling

नेटवर्क स्थापित करने के लिए आपको केवल एक नेटवर्किंग डिवाइस की जरूरत है, इसके अलावा इसमें और किसी चीज की जरूरत नहीं पड़ती। और इसमें हमें बार-बार कोई नया सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने की जरूरत भी नहीं पड़ती। इस तरीके से इससे यूज करना बहुत ही आसान है।

Not so expensive

इसकी खास बात यह है कि एक बार एक नेटवर्क सिस्टम इंस्टॉल करने के बाद आप उससे कितने ही कंप्यूटर्स कनेक्ट कर सकते हैं। इससे आपकी बचत होगी और आप सभी कंप्यूटर्स में networking के द्वारा आसानी से काम कर सकते हैं।

Networking के नुकसान

networking hindi meaning

दोस्तों अगर हम किसी मशीन या टेक्नोलॉजी की बात करे तो ऐसा कभी भी नहीं होगा कि हमें उस टेक्नोलॉजी से केवल फायदा ही हो। अगर हमें उससे फायदा पहुंच रहा है तो कहीं न कहीं नुकसान भी होता ही है। आइए अब नजर डालते हैं इससे होने वाले नुकसान पर।

Security problem

जैसा कि हम जानते हैं कि नेटवर्किंग में हम एक तरह से बहुत सारे कंप्यूटर को आपस में जोड़ते हैं। बहुत सारे कंप्यूटर को जोड़ने का मतलब हुआ कि हम बहुत सारे लोगों से individually जुड़ते हैं और अपनी इंफॉर्मेशन, फाइल, उनसे शेयर करते हैं। हो सकता है उनमें से कोई illegal काम करने की सोच रहा हो और वह आपकी इंफॉर्मेशन का गलत फायदा उठाएं। इसलिए नेटवर्किंग में सिक्योरिटी को लेकर बहुत ही ज्यादा समस्या है जो कि उसका एक नुकसान है।

Expensive at starting

शुरुआत में जब आप कंप्यूटर नेटवर्क इंस्टॉल करते हैं तो उस समय आपको इसकी ज्यादा कीमत चुकानी होती है क्योंकि इसमें आपको नेटवर्किंग डिवाइसेज इस्तेमाल करना होता है जैसे कि router, switch, hub आदि।

Not so strong

इसमें सबसे बड़ी परेशानियां होती है कि अगर कभी कंप्यूटर का main server से संपर्क टूट जाता है तो पूरे नेटवर्क को इसका नुकसान उठाना पड़ता है। एक भी link टूटने पर पूरा नेटवर्क टूट जाता है और सभी डिवाइसेज बंद हो जाती है। और सभी कंप्यूटर्स बिना काम के हो जाते हैं, फिर उनका कोई इस्तेमाल नहीं हो पाता।

Networking devices कौन कौनसी होती है

दोस्तों नेटवर्किंग डिवाइसेज भी होती हैं जो नेटवर्क को स्थापित करने के लिए जरूरी होती है। बिना नेटवर्किंग डिवाइसेज के दो कंप्यूटर के बीच में नेटवर्क नहीं साधा जा सकता। आइए जानते हैं नेटवर्क को बनाने के लिए हमें कौन-कौन से डिवाइस से यूज करनी होती है।

Router

यह एक नेटवर्किंग डिवाइस है जो कि दो कंप्यूटर के बीच के नेटवर्क में डाटा या इंफॉर्मेशन को आगे पहुंचाने का काम करती है। इसका नाम router इसलिए है क्योंकि यह नेटवर्किंग में traffic directing का काम करता है। यह एक तरह से route बताने का काम करता है। इंटरनेट पर जो भी डाटा या इंफॉर्मेशन सेंड किया जाता है तो वह एक packet के रूप में होता है और यह राउटर उसे route बताने का काम करता है जिससे कि इंफॉर्मेशन receiver के पास पहुंच जाए।

HUB

एक ऐसा नेटवर्किंग डिवाइस है जो लोकल एरिया के नेटवर्क में नेटवर्किंग डिवाइस के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। यह मुख्य रूप से LAN में इस्तेमाल होता है।  HUB में बहुत सारे ports होते है, अगर कोई information HUB का पर आती है तो वह सभी लोकल एरिया ports पर भेज देता है जो कि HUB  से connected होते है।

Switch

यह एक ऐसा नेटवर्किंग डिवाइस है जो कि कंप्यूटर नेटवर्क पर डिवाइस इस को जोड़ने का काम करता है।
इसकी मदद से source device इंफॉर्मेशन को भेजती है और आगे प्रोसेस करती है जब तक वो destination तक ना पहुंच जाए। इस networking device को switching hub या bridging hub भी कहते है।

निष्कर्ष:--

दोस्तों आज हमने देखा नेटवर्क और नेटवर्किंग क्या होता है। हमने इस पोस्ट में जाना की नेटवर्किंग क्यों जरूरी होती है, इसके क्या फायदे होते हैं, व क्या नुकसान होते हैं। इसके अलावा हमने कुछ नेटवर्किंग डिवाइसेज के बारे में भी आपको बताया। आशा करते हैं कि आपको आज की हमारी यह पोस्ट पसंद आई होगी और आपकी कुछ मदद हुई होगी। इस पोस्ट से जुड़ा आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें नीचे दिए कमेंट बॉक्स में लिखकर जरूर बताएं। हम आपके सवालों और सुझावों का इंतजार करते हैं। मिलते हैं दोस्तों इसी तरह की हमारी अगली बेहतरीन पोस्ट के साथ।

Comments

Trending

Ghar Baithe gift packing ka kaam karke kamaye lakho | घर बैठे पैकिंग का काम

Ghar Baithe packing ka kaam

नोट:-क्या आप घर बैठे पैसे कमाना चाहते है? Helo App से आप रोज 350 ₹ कमा सकते है। अभी डाउनलोड करे और दोस्तों के साथ पैसे कमाए(Click here to download)
हेल्लो दोस्तो! आज की हमारी इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे कि घर बैठे पैकिंग का काम करके पैसे कैसे कमाएं। आप सोच रहे होंगे कि भला सिर्फ पैकिंग करके कितना पैसा कमा लेंगे ज्यादा से ज्यादा पांच हज़ार। लेकिन ऐसा नहीं है दोस्तों आपको जानकर हैरानी होगी कि सिर्फ घर बैठे पैकिंग का काम करके आप इतना पैसा कमा सकते हैं कि आपको और कोई काम करने की भी जरूरत नहीं। आप घर बैठे पैकिंग का काम करके महीने के पंद्रह हजार तक कमा सकते है। और इसमें आपको ज्यादा इन्वेस्टमेंट की भी जरूरत नहीं। बस जरूरत है थोड़े डेकोरेटिव आइटम्स की जैसे रंग बिरंगे कागज, आकर्षक पैकिंग पेपर , फैंसी रिबन, ट्रांसपेरेंट रंग बिरंगी पन्नियां, कैंची, फेविकोल, टेप, डबल टेप, पेपर फ्लॉवर्स, हेंड मेड पेपर आदि।
दोस्तों जैसा कि हम और आप जानते हैं कि शादी, पार्टी, मैरिज एनिवर्सरी, बर्थडे, या किसी को खुश करना हो तो इन सभी के लिए जो चीज दिमाग में आती हैं वह है गिफ्ट। गिफ्ट सभी क…

Latest paisa kamane ka tarika [Top 6 trika] जानिए पैसा कमाने का लेटेस्ट तरीका

6 Latest paisa kamane ka tarika
नोट:-क्या आप घर बैठे पैसे कमाना चाहते है? Helo App से आप रोज 350 ₹ कमा सकते है। अभी डाउनलोड करे और दोस्तों के साथ पैसे कमाए(Click here to download)
हेल्लो दोस्तों!! आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे पैसा कमाने का तरीका। दोस्तो पैसा सबकी जरूरत है।  और जिस दर से महंगाई बढ़ रही हैं उसी दर से नौकरिया कम होती जा रही हैं। एक पढ़े लिखे ग्रेजुएट की हालात ये है की वह अपने परिवार के लिए पैसा कमाके नहीं दे सकता। अब तक यही कहा जाता था कि पढ़ लिख जाएंगे तो क हीं अच्छी नौकरी मिल जाएगी मगर वह समय गया दोस्तो! यह समय हैं इंटरनेट का, स्टार्टअप का, और बिजनेस का । अगर आप में हुनर है, तेज दिमाग है और सबसे जरूरी पैसों की सख्त जरूरत है तो आज की यह पोस्ट केवल आपके लिए हैं। तो आइये बिना किसी देर के जानते है पैसा कमाने का तरीका। इस पोस्ट में हमने पैसा कमाने के कई तरीके बताए है और हम दावे के साथ कह सकते हैं कि यह पूरी पोस्ट पढ़के आपको जरूर मदद मिलेगी । यह भी पढ़े :- Online Paise kaise kamaye
Ghar baithe job

इंटरनेट की मदद से Online Paisa Kamane ka tarika दोस्तों इंटरनेट से पैसा कमाना…

Online paise kaise kamaye ? 2020 के लिए 5 तरीके।

ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए ?
नोट:-क्या आप घर बैठे पैसे कमाना चाहते है? Helo App से आप रोज 350 ₹ कमा सकते है। अभी डाउनलोड करे और दोस्तों के साथ पैसे कमाए(Click here to download) दोस्तो अगर आप भी ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए ये जानने के लिए उक्सुक है तो आप सही जगह आये है।
आज इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए। सबसे पहले मैं आपको बता दूँ की अगर आप थोड़ी मेहनत करने को तैयार है तो आपके लिए ऑनलाइन पैसा कमाना बहुत ही आसान होगा। लेकिन उस से पहले कुछ बाते है जो आपको जानना ओर समजना बहुत जरूरी है।
आप सभी जानते है कि जमाना कितनी तेजी से डिजिटल हो रहा है और इसी के चलते आज लगभग हर बिज़नेस भी ऑनलाइन हो गया है। इन सभी बिज़नेस की एक ही जरूरत है वो है कस्टमर्स। कस्टमर्स के लिए ये ऑनलाइन बिज़नेस इश्तिहार देते है।
और इन्ही इश्तिहारों को अपनी किसी भी ऑनलाइन संपत्ति जैसे कि वेबसाइट, यूट्यूब वीडियो, एंड्राइड ऐप्प पर लगाने पर आपको पैसे मिलेंगे।
आपको इंटरनेट पर हजारों ऐसे आर्टिकल मिल जाएंगे जहा आपको ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए इस बारे में बताया है पर उन तरीको को कैसे इस्तेमाल करना है और कैसे काम करना है इसका को…